गन्ना किसानों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी इस सप्ताह भर में गन्ना मूल्य मैं बढ़ोतरी यहाँ करे चेक

 

गन्ना किसानों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी इस सप्ताह भर में गन्ना मूल्य मैं बढ़ोतरी यहाँ करे चेक

 

गन्ना किसानों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी जैसा कि आप सभी किसान भाई यह जानते है। कि गन्ना पेराई सत्र 2022-23 के गन्ना किसानों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आई है। जैसा की आप सभी किसान भाई जानते हैं। जी गन्ना पेराई सत्र 2022-23 के 3 महीने निकल चुके हैं। किंतु किसानों को अभी गन्ना मूल्य का पता नहीं चल पाया है

हम आपको बता दें कि सभी किसान भाइयों के लिए गन्ना मूल्य को लेकर बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आई है। यदि आप इसे जाना चाहते हैं तो आपको यह आर्टिकल अंत तक जरूर पढ़ें।

गन्ना पेराई सत्र 2022-23

जैसा कि सभी किसान भाई जानते हैं। 2022-23 गन्ना पेराई सत्र के 3 महीने बाद भी गन्ना पर्ची पर गन्ना मूल्य नहीं दिया जा रहा है जिससे किसान भाई बहुत चिंतित हैं। और वह इस बात को लेकर परेशान है। कि इस बार गन्ने के मूल्य में बढ़ोतरी की जाएगी क्या नहीं वैसे तो भारत देश में सभी राज्यों में गन्ना की खेती होती है

लेकिन ऊंची लेवल पर उत्तर प्रदेश महाराष्ट्र अन्य राज्यों में भी गन्ने की खेती अधिक मात्रा में की जाती है भारत एक ऐसा देश है जहां गन्ने की पैदावार मात्र एक राज्य उत्तर प्रदेश में कुछ देशों के मुकाबले भी है। राज्यों के मुकाबले केवल एक ऐसा है यह राज्य है जहां गन्ने की खेती उच्च लेवल पर की जाती है

गन्ना पेराई सत्र 2022-23 गन्ना मूल्य

ganna kisaanon ke lie bahut badee khushakhabaree is saptaah bhar mein ganna mooly main yahaan arjit karen chek karen
ganna kisaanon ke lie bahut badee khushakhabaree is saptaah bhar mein ganna mooly main yahaan arjit karen chek karen

सभी किसान भाइयों को यह जानकर खुशी होगी कि कन्या राशि पर 2022-23 के मूल्य में इजाफा करने को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। जल्द ही गन्ना किसानों को गन्ना मूल्य में बढ़ोतरी की सौगात मिलने वाली है ऐसा माना जा रहा है। कि इसी सप्ताह में गन्ना मूल्य का खुलासा किया जा सकता है। अभी तक यह माना जा रहा है पेराई सत्र 2022-23 में गन्ना मूल्य 350 रुपए प्रति कुंटल था लेकिन इस सप्ताह में मूल्यों में बढ़ोतरी करने का अनुमान है।

सप्ताह भर में हो सकती है गन्ना बढ़ोतरी की घोषणा

पेराई सत्र शुरू हुए तीन महीनों से अधिक हो गया है। किंतु 2022-2023 का गन्ना मूल्य तक घोषित नहीं हुआ है। वही किसान लागत बढ़ाने का हवाला देकर मूल्य वृद्धि की मांग कर रहे हैं। उधर गन्ना मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ चर्चा कर सप्ताह भर में गन्ना मूल्य मैं बढ़ोतरी को कहा।

गन्ना मंत्री लक्ष्मीनारायण ने दिए गन्ना मूल्य बढ़ाने के संकेत

जैसा कि आप सभी जानते हैं। गन्ना की पैदावार है। मात्र एक उत्तर प्रदेश ऐसा राज्य है जिसमें सबसे अधिक मात्रा में गन्ना उगाया जाता है। उत्तर प्रदेश में चल रही 120 चीनी मिलों में से 60 लाख से ज्यादा गन्ना किसान जुड़े हैं। अभी तक गन्ना मूल्य घोषित न होने के कारण मिल पिछले साल 2022-23 मैं भी 340 से 350 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गन्ना भुगतान कर रहे हैं।

किसानों की मांग को देखते हुए गन्ना क्षेत्र के सांसद समेत अन्य नेता अगले वर्ष लोकसभा चुनाव को देखते हुए मूल्य वृद्धि को जरूरी बता रहे हैं उनका तर्क है। कि यदि अगले वर्ष मूल्य बढ़ाया गया तो उसे चुनाव के कारण हुई बढ़ोतरी का आ जाएगा इसलिए इस वर्ष की कुछ न कुछ मूल्य बढ़ोतरी आवश्यक की जाए जिससे कि सभी किसान भाइयों को यह लगे कि सरकार किसानों की हितैषी है।

पेराई सत्र 2022 23 का किया गया गन्ना भुगतान

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी गन्ना किसानों को गन्ना भुगतान को लेकर कड़े आदेश दिए हैं। जिससे कि सभी मिले जल्द से जल्द पिछले वर्ष का बकाया इस वर्ष का गन्ना भुगतान जल्द से जल्द किया जाए

जिससे कि किसानों की आर्थिक स्थिति सुधर जाएगी माना जा रहा है गन्ना पेराई सत्र 2022-23 का गन्ना भुगतान 25 दिसंबर तब का कुछ महिला द्वारा गन्ना भुगतान किया जा चुका है किंतु कुछ गन्ना मिल अभी ऐसे भी हैं जिसका इस वर्ष का तो जड़ो पिछले वर्ष का भी गन्ना भुगतान अभी नहीं किया गया है जिसके माध्यम से अधिक किसान परेशान हैं।

गन्ना पेराई सत्र 2021-22 गन्ना भुगतान

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सभी मिलों को यह आदेश दिए जा चुके हैं। कि जल्द से जल्द सभी गन्ना किसानों का गन्ना भुगतान किया जाना चाहिए 2022-23 का गन्ना भुगतान कुछ आता किया जा चुका है लेकिन कड़ी समस्या यह है कि 2021-22 का गन्ना भुगतान मेलों ने अभी नहीं किया है जिसके कारण किसान बहुत परेशान है

किसानों का कहना है। कि इस वर्ष का तो छोड़ो पिछले वर्ष का गन्ना भुगतान जल्द से जल्द किया जाना चाहिए सरकार को यह पत्र लिखकर बताया कि अभी कुछ भी लोगों ने गन्ना पेराई सत्र 2021-22 का गन्ना भुगतान नहीं किया गया तो वह आंदोलन कर सकते हैं इस चेतावनी को देखते हुए सरकार ने सभी गन्ना मिलों को जल सजन का नाम उपाय करने के आदेश जारी कर दिए हैं।

 

Leave a Comment